There is no hope of relief from heat wave in these 14 states including Haryana and Punjab

हरियाणा, पंजाब और इन 14 राज्यों में गर्मी से राहत का कोई आशा नहीं

भारत के मौसम विभाग से पता चला है कि जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों पर और पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश में, और चार से पांच दिन भीषण गर्मी होने वाली है; ऐसा बताया जा रहा है कि 47 डिग्री तापमान जा सकता है। पहाड़ी राज्यों और उत्तर पश्चिम और उत्तर पूर्वी भारत बेसन गर्मी के चपेट में आ गई है जम्मू कश्मीर हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ हिस्सों पर 40 डिग्री का तापमान पर कर चुका है।

मौसम विभाग के द्वारा पंजाब हरियाणा और केंद्र शासित प्रदेशों में अगले 4,5 दिनों के लिए भीषण गर्मी को लेकर के अलर्ट कर दिया गया है। मौसम विभाग के द्वारा यह भी बताया जा रहा है कि अगले 4,5 दिन तक 44 डिग्री से 47 डिग्री तापमान रहने की संभावना है। 5 दिन के बाद बारिश होने की संभावना है जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिल सकती है।

शिमला में पूरे 10 साल बाद 31 डिग्री तापमान पार

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में पूरे 10 वर्ष बाद शुक्रवार को अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस मापा गया है, हालांकि इसके पहले 2014 में शिमला का अधिकतम तापमान 31.4 डिग्री सेल्सियस मापा गया था।

उत्तरी बंगाल में बाढ़ आने की संभावना जताई जा रही है

काफी बारिश होने के बाद तीस्ता नदी में आए तूफान के मुताबिक पश्चिम बंगाल की सिंचाई विभाग के द्वारा शुक्रवार को राज्य क उत्तरीय जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग और कलीमपोंग जिलों में बाढ़ को लेकर एलर्ट जारी कर दिया गया है सिक्किम में बंद से तीस्ता नदी में पानी छोड़े जाने उत्तरी बंगाल में भी बाढ़ आ गई है सिंचाई विभाग के द्वारा बताया जा रहा है कि बाढ़ से बचने के लिए एहतियाती उपाय किया जाएं।

सिक्किम में काफी बारिश और भूस्खलन से अब तक 9 की मौत

सिक्किम में कुछ दिनों से काफी बारिश हो रही है और भूस्खलन भी जिसके कारण अभी तक 9 की मौत हो चुकी है वहीं बहुत सारे सड़के टूट गई है और कुछ सड़के तो पानी में समा गई हैं। और मंगन जिले में बाढ़ की वजह से कई रास्ते बंद हो गया हैं जिसके कारण 1200 से अधिक घरेलू और 15 पर्यटक बुरी तरह फस गए हैं। विदेशी पर्यटकों में 2 थाईलैंड, 3 नेपाल और 10 बंगला देश के लोग सामिल हैं। बताया जा रहा है की फंसे हुए सभी पर्यटक सुरक्षित हैं।

और पर्यटक को वहां से निकालने के लिए केंद्र से बातचीत चल रही है। इस राज्य में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश होने की वजह से अभी तक नौ लोगों की जान जा चुकी है जो काफी निराशजनक बात है। सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम तमांग ने उच्च स्तरीय बैठक की और हालात का जायजा लिया। तीस्ता नदी में बाढ़ की वजह से खतरे की संकेत है खास करके अनलोगों के लिए जो तक तट पर रहते हैं।

Telegram Link Click Here
Home Page Link Click Here

Leave a Comment